7वीं बार एवरेस्ट पर फतह पायी लवराज सिंह धर्मशक्तू ने


mm
विनीता यशस्वी
May 22, 2018

लवराज ने  फोन द्वारा अपने मिशन के सफल होने की सूचना देते हुए बताया कि ‘उनके सभी साथी स्वस्थ हैं और वो सोमवार की दोपहर तक कैम्प 2 में लौट आयेंगे’। भावुक होते हुए उन्होंने बताया कि ‘उनके लिये एवरेस्ट को एक बार फिर फतह करना किसी दिव्य अनुभूति से कम नहीं हैं…’

सीमा सुरक्षा बल में एसिटेंट कमांडेट लवराज सिंह धर्मशक्तू ने रविवार 20 मई 2018 की सुबह 7 बजे 7 वीं बार एवरेस्ट (8848मी.) पर विजय हासिल करके एक नया राष्ट्रीय कीर्तिमान स्थापित किया है। उनके साथ इस मिशन में 7 टीम मेंर्बस और थे। लवराज पिथौरागढ़ जिले के मुन्स्यारी में स्थित बोना गाँव के रहने वाले हैं।

पदमश्री से सम्मानित लवराज ने सल 1998 में पहली बार एवरेस्ट पर फतह हासिल की और उसके बाद साल 2006, 2009, 2012, 2013, 2017 में वो एवरेस्ट पर फतह हासिल कर चुके हैं।

इस वर्ष केन्द्रीय खेल एवं युवा मामलों के मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौर ने 20 मई 2018 को सीमा सुरक्षा बल के एवरेस्ट अभियान को नई दिल्ली में फ्लैग आॅफ किया। अभियान के सफल होने पर राज्यवर्धन ने ट्वीट द्वारा टीम को बधाई देते हुए लिखा — रेगिस्तान से लेकर बर्फिली चोटियों तक ऐसा कुछ भी नहीं है जिसे सीमा सुरक्षा बल के जवान फतह न कर सकें।

इस अभियान का मुख्य उद्देश्य एवरेस्ट पर दिन—ब—दिन बढ़ते जा रहे कचरे का साफ करना भी था जिसके तहत वो अपने साथ एवरेस्ट में फैले कूढ़े को नीचे ले के भी आये।

लवराज ने फोन द्वारा अपने मिशन के सफल होने की सूचना देते हुए बताया कि ‘उनके सभी साथी स्वस्थ हैं और वो सोमवार की दोपहर तक कैम्प 2 में लौट आयेंगे’। भावुक होते हुए उन्होंने बताया कि ‘उनके लिये एवरेस्ट को एक बार फिर फतह करना किसी दिव्य अनुभूति से कम नहीं हैं…’।

mm
विनीता यशस्वी

नैनीताल समाचार की डी.टी.पी. प्रभारी विनीता यशस्वी अच्छी फोटोग्राफर हैं. घुमक्कड़ी उनका शौक है.